Saturday, September 26, 2009

आदित्य


मैं ना आदित्य साहू हुँ ...क्या आप मेरी कहानी सुनोगे?
मेरा जन्म १० मार्च २००९ में होलिका दहन के दिन हुआ था।
मेरे मम्मी पापा उस क्षण बहुत खुश थे पर थोड़े देर में यह खुशी दुःख में बदल गयी। मैं रोया नहीं ना तो ऑक्सीज़न की कमी हो गयी।
और न मुझे मेनेंज़ाइटिस भी हो गया।
मुझे दुसरे हॉस्पिटल ले जाया गया।
मैं अपनी मम्मी से अलग आई.सी.यू.में था। मम्मी दुसरे हॉस्पिटल में और मैं दुसरे।
मुझे अपनी मम्मी की बहुत याद आती थी। नर्स मुझे जब कैन्डूला लगाती ना तो बहुत दर्द होता था। मेरे नाक में पाइप लगी थी , अब तो झटके भी आने लगे थे। किसी को भी मेरे बचने की उम्मीद नही थी सिवाए मेरे मम्मी के।
जब वह मुझसे मिलने आती तो ना मुझसे अपनी आखों से कहती -
"मेरा प्यारा बेटा, तू जल्दी से अच्छा हो जाएगा।"
पता है ? इसलिए मैं जल्दी से ठीक होने लगा। मैं करीब डेढ़ महीने हॉस्पिटल में रहा।
खूब सारी दवाईयाँ लेनी पड़ती थी खूब उल्टी भी हो जाती थी।
डिब्बा वाला दूध लेना पड़ता जो मुझे बिल्कुल पसंद नही आता था।
पर अब मैं गाय का दूध लेता हूँ रोज १ से डेढ़ लीटर पी जाता हूँ और ना नानी मुझको रोज एक सेब फल भी देने लगी है
अभी तो मैं ठीक हूँ किंतु कभी -कभी मुझे अभी भी झटके आते हैं तो मेरी मम्मी डर जाती हैं।
आप लोग ईश्वर से मेरे लिए प्रार्थना करिए ना की मैंजल्दी से अच्छा हो जाऊं .... और मेरी मम्मी से बोलिए की ज्यादा चिंता ना करें अपने स्वास्थ का ध्यान रखें।
और ना मुझे अपने पापा की बहुत याद आती है वे मुझसे बहुत दूर डेल्ही में रहते हैं उनको अपना कार्य छोड़ते नही बनता पर मुझसे बहुत प्यार करते हैं।

मै अभी वहां नही जा सकता क्योंकि मेरी तबियत अभी पूरी ठीक नहीं हुई।

पता है मै अपने पापा के लिए कौन सा गीत गाता हूँ ?

"सात समुन्दर पार से गुड़ियों के बाज्रार से अच्छी सी गुड़िया लाना,

गुड़िया चाहे न लाना, पर पापा जल्दी आ जाना"


I love you mom and dad.

16 comments:

  1. ह्म्म तो आदित्य साहब, दुआ सलाम तो हो गई आपसे।
    अच्छी रही मुलाकात, जल्द ही लौटेंगे पापा आपके ऐसी हमारी कामना है।

    फिर मिलेंगे।

    शुभकामनाओं के साथ स्वागत है हिंदी ब्लॉगजगत पर

    ReplyDelete
  2. Bahut Barhia... aapka swagat hai...

    thanx
    http://mithilanews.com

    please visit

    http://hellomithilaa.blogspot.com
    Mithilak Gap... Maithili Me

    http://mastgaane.blogspot.com
    Manpasand Gaane

    http://muskuraahat.blogspot.com
    Aapke Bheje Photo

    ReplyDelete
  3. रौशनी की जिन्दगी रौशन रहे आदित्य से।
    आगमन बेहतर लगा परिचय हुआ साहित्य से।।

    ReplyDelete
  4. bachey ki dairy uskey janam se hi likhaney ka pryog accha hai jari rakhean

    ReplyDelete
  5. Very nice----keep it up.
    HemantKumar

    ReplyDelete
  6. Aadity meri dewrani ka beta hai.
    aur mai uski pyari si badi mammi hoon.

    ReplyDelete
  7. बहुत ... बहुत .. बहुत अच्छा लिखा है
    हिन्दी चिठ्ठा विश्व में स्वागत है
    टेम्पलेट अच्छा चुना है. थोडा टूल्स लगाकर सजा ले .
    कृपया वर्ड वेरिफ़िकेशन हटा दें .(हटाने के लिये देखे http://www.manojsoni.co.nr )
    कृपया मेरा भी ब्लाग देखे और टिप्पणी दे
    http://www.manojsoni.co.nr और http://www.lifeplan.co.nr

    ReplyDelete
  8. wahhh wahh kya baat hai.....padkar ankhen nam ho gyi....likhte raho dost !! welcome to blogging plz welcome to my blog ..


    Jai Ho mangalmay Ho

    ReplyDelete
  9. आदित्य हम आपके पूरी तरह से स्वस्थ हो जाने की प्रार्थना ईश्वर से करते है । आप जल्दी से ठीक हो जाइये उसके बाद ढ़ेर सारी बाते करेंगे, है ना । ठीक है ।

    ReplyDelete
  10. ब्लॉग जगत में आपका स्वागत है

    ReplyDelete
  11. आपका स्वागत है
    आपको पढ़कर अच्छा लगा
    शुभकामनाएं


    *********************************
    प्रत्येक बुधवार सुबह 9.00 बजे बनिए
    चैम्पियन C.M. Quiz में |
    प्रत्येक रविवार सुबह 9.00 बजे शामिल
    होईये ठहाका एक्सप्रेस में |
    प्रत्येक शुक्रवार सुबह 9.00 बजे पढिये
    साहित्यिक उत्कृष्ट रचनाएं
    *********************************
    क्रियेटिव मंच

    ReplyDelete
  12. आप जल्दी ठीक हो जाओ ऐसे मेरी कामना है दीपावली की मुबारकबाद

    ReplyDelete
  13. Hi Aditya ! You will get well soon ! And ofcourse will be able to meet your dad sooner! Best Wishes and Good Health Always!

    ReplyDelete

आपके टिप्पणियों का स्वागत है.