Saturday, October 24, 2009

"इठलाती तितलियाँ रानी"

 
 
 


कितनी प्यारी लग रही हो तितली रानी,
तुम्हारा इठलाना, मंडराना
इन फूलों की खूबसूरती को बढ़ा रही है।
तुम हमेशा खुश रहो मेरी प्यारी तितली रानी।





5 comments:

  1. बढ़िया प्रस्तुति पर हार्दिक बधाई.
    ढेर सारी शुभकामनायें.

    SANJAY KUMAR
    HARYANA
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    ReplyDelete
  2. बहुत आभार संजय जी. आशा है आगे भी आप सब का मार्गदर्शन मिलता रहेगा.

    ReplyDelete
  3. अहाहा..नयनाभिराम चित्र...देख कर आँखें तृप्त हुईं...वाह...
    नीरज

    ReplyDelete
  4. नीरज जी शुक्रिया....

    ReplyDelete

आपके टिप्पणियों का स्वागत है.